Road Safety Guidelines


राजमार्गों से मिलने वाले संकरे एवं ग्रामीण मार्ग



राजमार्गों से मिलने वाले संकरे मार्गों/ग्रामीण सड़कों पर ध्‍यान रखने वाली बातें
एक चालक के लिए यह सीखना अत्‍यन्‍त महत्‍वपूर्ण है कि राजमार्गों पर मिलने वाली सड़कों पर सही तकनीकों का प्रयोग करते हुए तथा विलय की अच्‍छी आदतों के अभ्‍यास द्वारा किसी से टकराए बिना किस प्रकार वाहन चलाया जाता है । चूंकि राजमार्ग की स्थितियों ( या अन्‍य चालको) का पूर्व अनुमान लगाना सम्‍भव नहीं होता है, इसलिए यह अत्‍यन्‍त कठिन है कि किसी निश्चित परिस्थिति के लिए सदैव समान नियम ही लागू हो। यातायात के नियमों को समझना और अच्‍छी चालन आदतों (रिफ्लैक्सि) का अनुसरण करना ही राजमार्ग में सुरक्षित रूप से प्रवेश करने का मूल मंत्र है ।

राजमार्ग के गतिशील यातायात के साथ समान गति में चलना:
राजमार्ग में सुरक्षित रूप से प्रवेश करने का सबसे पहला कदम यह है कि आप सुनिश्चित कर लें कि आपकी गति राजमार्ग पर चल रहे यातायात की गति के समान ही हो । गति लेन (एक्‍सलरेशन लेन) का प्रयोग करें अर्थात राजमार्ग में प्रवेश ढलान या प्रवेश स्‍थल से ही प्रवेश करें, ताकि आप गति पकड़ सकें ।

  • राजमार्ग में चल रहे यातायात की गति की समान गति के साथ राजमार्ग में मिलने से यह सुनिश्चित होगा कि पीछे तीव्र गति से आने वाले यातायात के साथ मिलते समय आप किसी खतरनाक स्थिति को उत्‍पन्‍न नहीं करेंगे ।
  • अपने वाहन को गति प्रदान करते समय अपने शीशों (मिरर) को देखें तथा अन्‍य वाहनों पर ध्‍यान बनाए रखें ।

अपने टर्न संकेत को चालू करें:
यह कार्य सुगमता के साथ करें ताकि अन्‍य चालकों को पता चल जाए कि आप क्‍या करना चाहते हैं । इससे उन्‍हें अपने चालन में कोई आवश्‍यक समायोजन करने का समय मिल जाएगा । अन्‍य वाहनों से उम्‍मीद नहीं की जाती है कि वे अपना मार्ग परिवर्तित करेंगे, वे समान गति के साथ चलते रहेंगे, और यह आप पर निर्भर करता है कि आप अपनी गति के साथ समायोजन करें और सुरक्षित रूप से राजमार्ग के साथ मिल जाएं । यातायात में वाहनों से दूरी बनाए रखें:

यदि राजमार्ग पर यातायात अत्‍यधिक है तो आपको यातायात के साथ मिलने से पहले कुछ दूरी बनाए रखनी होगी । अपनी आंखें सड़क पर बनाए रखें किन्‍तु अपने शीशों को देखते रहें और अपने पीछे भी देखते रहें कि कब आपको सुरक्षित रूप से यातायात में प्रवेश करना है । इसके साथ ही साथ , अपने वाहन की उचित गति भी बनाए रखें ताकि आप सुरक्षित रूप से यातायात के प्रवाह के साथ प्रवेश कर सकें ।

  • वाहन के भीतर के रियर-व्‍यू मिरर को देखें, और इसके बाद ड्राइवर के साइड मिरर को देखें ।
  • हलकी-सी नजर इस ओर भी दें कि आपके ब्‍लाइंड स्‍पॉट ( दो मार्गों के विलय होने वाले स्‍थान में आपके पीछे से चिपकते हुए) से कोई वाहन तो नहीं आ रहा है ।
  • देखें कि रैंप मिलने वाली लेन में आपके आगे कोई वाहन धीमा तो नहीं हुआ या पूरी तरह से रूका तो नहीं है ।


राजमार्ग में उस समय मिलें ( प्रवेश करें) जब ऐसा करना सुरक्षित हो:
जब आप यातायात में अन्‍तर देखें तो सुगमता के साथ वाहन को लेन में डाल दें । अब आप उसी गति से वाहन चलाएंगे जिस गति से शेष यातायात चल रहा है । विलय करते समय अपने आसपास के वाहनों को ध्‍यान रखें । यदि कोई वाहन आपके सामने ब्रेक लगाता है या आपकी लेन के प्रवेश करने का प्रयास करता है तो आप तीव्रता के साथ प्रतिक्रिया करने की स्थिति में होना चाहिए । उपर्युक्‍त में दी गई सही तकनीकों का प्रयोग करने के अतिरिक्‍त, अच्‍छी विलय ( प्रवेश) आदतों का अभ्‍यास करना भी अत्‍यन्‍त महत्‍वपूर्ण है, जो कि निम्‍नानुसार है:

अन्‍य वाहन चालकों की ' भावभंगिमाओं'' को देखें:
तकनीकी रूप से वाहनों को विलयन लेन में समान गति के साथ ही बने रहना चाहिए और यह यातायात में विलय होने वाले व्‍यक्ति का उत्‍तरदायित्‍व है कि वह इसमें अन्‍तर को देख कर प्रवेश करें । तथापि, प्रत्‍येक चालक भिन्‍न रूप से व्‍यवहार करता है, इसलिए यह आवश्‍यक है कि इस ओर ध्‍यान रखा जाए कि वहॉ क्‍या चल रहा है और वहॉ की वास्‍तविक स्थिति के आधार पर निर्णय लिया जाए ।

  • यदि आपके पीछे से कोई वाहन आ रहा है और वह अपनी गति धीरे करने वाला है तो, सम्‍भवत: वह चालक आपको अपने से पहले '' यातायात में प्रवेश'' की अनुमति प्रदान कर रहा है, ऐसे में अपनी गति बढाएं और सकारात्‍मक रूप से प्रतिक्रिया करते हुए यातायात में प्रवेश कर जाएं । इसी प्रकार यदि विलय लेन से आप किसी कार को बाहर निकलते देखें और वह आपको कुछ स्‍थान प्रदान कर रही है तो इसका भी वही अर्थ होगा ।
  • यदि कोई वाहन तीव्र गति के साथ आ रहा है तो यातायात के साथ मिलने से पूर्व उस वाहन को यातायात में मिलने दें ।
  • कई बार चालक अपना हाथ हिलाकर भी इशारा कर देते है ।
  • कभी भी यह मानकर न चलें की दूसरे लोग सही गति का प्रयोग करेंगे । यह आप पर निर्भर करता है कि आप परिस्थिति के अनुसार किस प्रकार प्रतिक्रिया करते हैं।

अपने आगे और पीछे के वाहनों से कुछ दूरी बनाए रखें :
जैसे ही आप यातायात के साथ विलय करते हैं, अपने आगे तथा अपने पीछे वाले वाहनों के साथ कुछ दूरी बनाए रखें । इससे आपको कुछ जगह मिल जाती है, अर्थात यदि आगे वाला वाहन अचानक आपके सामने ब्रेक लगा देता है तो आपको अचानक रूकने के लिए स्‍थान मिल जाएगा । सही गति पर वाहन चलाने का अभ्‍यास करें, ताकि आप अन्‍य वाहनों के पीछे से टकरा न जाएं या आपके पीछे वाले वाहनों को अपनी गति कम न करनी पड़े ।

यातायात में अचानक विलय न करें :
हरसम्‍भव प्रयास करें कि जिस लेन में आप प्रवेश करना चाहते हैं उसमें अचानक प्रवेश न करें । सुनिश्चित कर लें कि आप टर्न सिग्‍नल का प्रयोग करें , और जहॉ तक सम्‍भव हो अन्‍य वाहनों के साथ आंखों का सम्‍पर्क बनाए रखें ।

विलयन लेन ( मर्ज लेन) पर आकर वाहन को न रोकें :
यदि यातायात की स्थिति बहुत खराब है और आपको उसमें प्रवेश के लिए कोई अन्‍तर (गैप) नहीं मिल रहा है तो आपको लगेगा कि आपको अपना वाहन रोक देना चाहिए । यह सही विचार नहीं है, क्‍योंकि एक कार को 0 से 65 की गति प्राप्‍त करने में बहुत समय लग जाता है । जब आप रूकने के बाद दोबारा गति पकड़ने का प्रयास करेंगे तो, यह आपके लिए तथा अन्‍य चालकों के लिए अत्‍यन्‍त जोखिमपूर्ण हो सकता है । अपना टर्न सिग्‍नल दायीं ओर रखकर यातायात की गति के समान गति बना लें और अपने पीछे वालें चालक के साथ आंखों का सम्‍पर्क बनाएं तथा उसके वाहन से दूरी बना कर रखें ।

जब आप देखें कि अन्‍य लोग राजमार्ग में प्रवेश कर रहे हैं तो उनके प्रति उदार बनें :
यदि आपके सामने कोई अन्‍य वाहन राजमार्ग में प्रवेश करने का प्रयास कर रहा है तो अपनी गति को कुछ धीमा कर लें, या गति को बढ़ा लें, यदि ऐसा करना सुरक्षित हो तो । सतर्क बने रहें और अन्‍य चालकों के लिए भी स्थिति सरल बनाने का प्रयास करें, क्‍योंकि ऐसा करने से राजमार्ग सभी के लिए सुरक्षित स्‍थान बनेगा ।

महत्‍वपूर्ण बातें

  • सदैव अपना सिर घुमाएं और देखें, केवल रियर-व्‍यू मिरर का ही प्रयोग न करें, क्‍योंकि रियर व्‍यू मिरर से आप अपने बहुत निकट चलने वाली ( ब्‍लाइंड स्‍पॉट) कार को नहीं देख पाएंगे ।
  • सुनिश्चित करें कि आपकी गति उतनी होनी चाहिए कि आप सुरक्षित रूप से राजमार्ग में प्रवेश कर सकें ।
  • यातायात के साथ विलय करने का उत्‍तरदायित्‍व आप का है । राजमार्ग में पहले से चल रहे यातायात का अधिकार पहले है । आपको स्थिति के अनुसार अपनी गति को समायोजित करना होगा और यातायात के साथ सुरक्षित रूप से मिलना होगा ।
  • अपने टर्न सिम्‍नल को ऑन करना मत भूलना । यह राजमार्ग के साथ मिलने वाले यातायात को सूचित करने का सर्वोत्‍तम संकेत है कि आप क्‍या करने वाले हैं ।
  • याद रखें कि आपके पीछे वाले वाहन भी राजमार्ग में प्रवेश करने का प्रयास कर रहे हैं । यदि सम्‍भव हो तो दूसरी लेन में जाकर उन्‍हें भी राजमार्ग में प्रवेश करने का स्‍थान प्रदान करें ।
  • यदि आपके साथ-साथ वाहन चल रहा है ते आप अपनी गति को कम कर लें और उसके पीछे चलें । इस वाहन से आगे जाने का प्रयास न करें । ऐसा करने पर आपको आगे जाने के लिए जगह नहीं मिल पाएगी ।
  • यातायात में मिलने का प्रयास करते समय आपके आगे और पीछे एक कार की दूरी अवश्‍य होनी चाहिए।
  • कई बार रैंप के अन्‍त में विलय के लिए क्षेत्र नहीं होता है । वहॉ ''विलय क्षेत्र नहीं है'' या '' यील्‍डर'' जैसे चिन्‍हों से सुस्‍पष्‍ट रूप से संकेत दिया जाता है । ऐसी स्‍थि‍ति में आपको अपना वाहन धीमा करना पड़ेगा या शायद पूरी तरह से रोकना पड़ेगा ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि अगली लेन में जाने के लिए आपके पास खाली स्‍थान उपलब्‍ध है ।
  • अपनी लेन में प्रवेश करने वाले वाहनों पर नजर रखें । राजमार्ग में अनेक प्रवेश बिन्‍दु सड़क के निकास बिन्‍दु भी हो सकते हैं, जिससे कि आपने अभी प्रवेश किया है ।
  • यदि आप सुरक्षित रूप से राजमार्ग के यातायात में प्रवेश नहीं कर पा रहे हैं तो देखें कि क्‍या आपके पास प्रवेश लेन में बने रहने का विकल्‍प है , यदि हॉ तो तत्‍काल निकास लेन भी बन रही है तो उससे निकास करें, एक्‍सलरेशन निकास लेन पर रूकें नहीं । आप तत्‍पश्‍चात् सामान्‍य रूप से उस सर्विस लेन ( या फ्रंटेज) पर या स्‍थानीय गलियों में बने रह सकते हैं और तत्‍पश्‍चात राजमार्ग में विलय करने का प्रयास करें ।
  • सदैव ध्‍यान रखें कि विलय लेन कितनी बची हुई है ।विलय लेन, समान राजमार्ग पर होने के बावजूद काफी लम्‍बी हो सकती है ।
  • यथाशीघ्र राजमार्ग के यातायात प्रवाह को देखें ताकि आपको उसमें प्रवेश का मार्ग निर्धारित करने में मदद मिल सकें ।
  • यह देख लें कि क्‍या आप उसी लेन में बने रह सकते हैं जिसके द्वारा आपने अभी राजमार्ग में प्रवेश किया है । प्रमुख महानगरों में, सर्वाधिक दायीं लेन पैदल चलने वालों के होती है, जो केवल कुछ घंटों के लिए ही खुली रहती है ।
  • अपना ध्‍यान सड़क पर रखें और अन्‍य चीजों से ध्‍यान भटकने न दें ।
  • यदि आप वास्‍तव में घबराए हुए हैं और कार में अन्‍य लोग भी हैं तो दूसरों को शांत होने के लिए कहें ताकि आप ध्‍यान केन्द्रित कर सकें।
  • रात के समय साइड़ रोड से प्रवेश करते समय डिप्‍पर सिग्‍नल का प्रयोग करें ।


Traffic Alerts

traffic is normal at sarsol chauraha (aligarh)

traffic is normal at sarsol chauraha


traffic is normal at kelanagar chauraha (aligarh)

traffic is normal at kelanagar chauraha


traffic is normal at kishanpur tiraha (aligarh)

traffic is normal at kishanpur tiraha


traffic is normal at rambagh chungi tiraha (aligarh)

traffic is normal at rambagh chungi tiraha


traffic is normal at etah chungi chauraha (aligarh)

traffic is normal at etah chungi chauraha